गुरुवार, 23 जुलाई 2020

MMS KA FULL FORM IN HINDI

MMS KA FULL FORM IN HINDI

आज के समय में सन्देश भेजने के लिए अलग- अलग तरीकों का प्रयोग होने लगा है, इससे पूर्व समय में सन्देश भेजने के लिए केवल पत्र का ही उपयोग किया जाता था | इस समय पूरे विश्व में इंटरनेट और सूचना प्रद्यौगिकी के द्वारा सन्देश को भेजा जा रहा है | इसके लिए लोग आईफोन, एंड्राइड मोबाइल और कम्प्यूटर का प्रयोग करते है | मोबाइल से सन्देश भेजने के लिए एसएमएस और एमएमएस शब्दों का प्रयोग किया जाता है | इस पेज पर MMS Ka Full Form in Hindi , एमएमएस का क्या मतलब होता है, के विषय में बताया जा रहा है |

एमएमएस का फुल फॉर्म (MMS FULL FORM)
एमएमएस (MMS) का फुल फॉर्म Multimedia Messaging Service होता है, हिंदी में मल्टीमीडिया मैसेजिंग सर्विस के नाम से जाना जाता




है | एसएमएस मोबाइल उपभोक्ता को मल्टीमीडिया सामग्री भेजने की अनुमति प्रदान करता है | इसको एक विशेष तकनीक का प्रयोग करके बनाया गया है | इसे चित्रों को भेजने के लिए उपयोग किया जाता है | चित्रों के कारण ही यह सबसे अधिक लोकप्रिय है | आप इसका उपयोग ऑडियो, फोन संपर्क और वीडियो फ़ाइलों को भेजने के लिए भी कर सकते है |

एमएमएस का क्या मतलब होता है?
एमएमएस को मल्टीमीडिया मैसेजिंग सर्विस कहा जाता है | यह एक तकनीक है, इसका उपयोग मल्टीमीडिया मैसेज को भेजने और प्राप्त करने के लिए किया जाता है | इसमें इमेजेज, ग्राफ़िक्स, ऑडियो फाइल्स, वीडियो क्लिप्स और अधिक टेक्स्ट को आसानी से भेजा जा सकता है | इसका उपयोग केवल उन्हीं उपकरणों में किया जा सकता है, जो इसका सपोर्ट कर सकते है | यह तकनीक मोबाइल फोन, स्मार्ट फोन, पर्सनल कंप्यूटर, हैंडहेल्ड डिवाइस में सपोर्ट करती है | इसका उपयोग GPRS, 3G और 4G नेटवर्क पर किया जा सकता है | GPRS के द्वारा एमएमएस धीमी गति से जाता है और 3G से यह तेजी के साथ जाता है, 4G से सबसे तेजी के साथ सन्देश भेजा जा सकता है | यह  वीडियो स्ट्रीमिंग का समर्थन करता है | पहली बार मल्टीमीडिया मैसेजिंग सर्विस को Captive Technology के रूप में विकसित किया गया था | इसके द्वारा इमेजेज, ऑडियो और वीडियो फाइल्स को साझा करना आसान किया गया है |

एसएमएस और एमएमएस में अंतर (DIFFERENCE)
एसएमएस (SMS)
एसएमएस का फुल फॉर्म शार्ट मैसेजिंग सर्विस है | इसका अविष्कार 1980 में किया गया है | इसका वर्णन 1985 के GSM स्टैंडर्ड्स में परिभाषित किया गया था | यह सबसे अधिक पुरानी तकनीक है, जिसका उपयोग अभी तक किया जा रहा है | वर्तमान समय में इसका व्यापक रूप से उपयोग किया जा रहा है |

एमएमएस (MMS)
एमएमएस को मल्टीमीडिया मैसेजिंग सर्विस कहा जाता है | इस तकनीक के द्वारा एसएमएस उपयोगकर्ताओं को मल्टीमीडिया चित्र भेजने की सुविधा प्रदान किया जाता है | इसका उपयोग ऑडियो, फोन संपर्क और वीडियो फ़ाइलों को भेजने के लिए भी किया जाता है |

एसएमएस और एमएमएस दोनों को मोबाइल नेटवर्क के द्वारा भेजा जाता है | इसको आरम्भ करने के लिए सम्बंधित मोबाइल नेटवर्क में कोई प्लान को लेना होता है | स्टैण्डर्ड SMS को 160 अल्फाबेट का भेजा जा सकता है | यदि कोई एसएमएस इससे अधिक हो जाता है, तो वह उसकी लम्बाई के अनुसार 160 अल्फाबेट में कई भागों में विभाजित हो जाता है | लगभग सभी मोबाइल नेटवर्क श्रृंखलाबद्ध इसको भेजने की सुविधा प्रदान करते है | इससे यह सभी मैसेज क्रम में आते हैं |

एमएमएस संदेशों में किसी भी सीमा का निर्धारण नहीं किया गया है | इसका साइज भेजने वाले और प्राप्त करने वाले मोबाइल की क्षमता पर निर्भर करता है | इसमें 300 केबी की फाइल को सबसे बड़ी फाइल के रूप में जाना जाता है |

एसएमएस और एमएमएस का विश्व में उपयोग (USE)
संयुक्त राज्य अमेरिका में एसएमएस का सबसे अधिक प्रयोग किया जाता है | इससे इसकी लोकप्रियता का पता चलता है | अधिकांश मोबाइल नेटवर्क कंपनियां इसकी सुविधा प्रदान करती है | एसएमएस की सुविधा को लगभग मुफ्त रखा जाता है | आईफोन उपयोगकर्ताओं की संख्या देश में बढ़ती जा रही है | इसलिए iMessage को दूसरे स्थान पर माना जाता है | पिछले कई दशकों में टेक्सटिंग मैसेज की संख्या बहुत अधिक हो गयी है | यह अकेले यूएस में 6 बिलियन से अधिक है | अमेरिका में यह संख्या  2010 से 2013 तक 57 बिलियन से बढ़कर 96 बिलियन तक पहुँच चुकी है | यह लगभग फ्री होने के कारण 18 वर्ष से 24 वर्ष के अमेरिकी स्मार्टफोन धारक प्रतिदिन 67 टेक्स्ट का आदान- प्रदान करते है |
Disqus Comments